यदि आप पहले से ही विटामिन, खनिजतत्व या प्रोबायोटिक टैबलेट या कैप्सूल ले रहे हैं, त आपको यह सुनिश्चित करना चाहिए कि आप स्वयं को कोई नुकसान नहीं पहुँचा रहे हैं, जोकि गलत फ़ॉर्मुलेशन से, उन्हें अधिक समय तक लेने से या आपके द्वारा पहले से लिए जा रही किसी अन्य दवा के साथ सहक्रिया से हो सकता है

अधिकांश स्थितियों में, कोई भी दूसरी चिंता सही नहीं होती है, लेकिन यह सुनिश्चित करने के लिए नीचे दी गई जानकारी की जाँच करें कि आप स्वयं को कोई नुकसान नहीं पहुँचा रहे हैं

यदि आप किसी भी अन्य पोषकतत्व के पूरक तत्व लेने का निर्णय करते हैं, तो नीचे दी गई जानकारी को देखें जिससे आपको बुद्धिमतापूर्ण चयन करने में सहायता मिलेगी:

 

  • सुरक्षित फॉर्मुलेशन चुनें

 

अधिकांश पूरक तत्वों के लिए आमतौर पर उपलब्ध फॉर्मुलेशन सुरक्षित हैं, लेकिन विटामिन A और विटामिन nd D पूरकतत्वों के लिए, अक्रिय फॉर्मुलेशन चुनना तब महत्वपूर्ण है, जब तक कि आपक डॉक्टर आपको सक्रिय फॉर्मुलेशन लेने की सलाह नहीं देता है. नीचे दी गई तालिका देखें 

पोषकतत्व अक्रिय स्वरूप

(सुरक्षित स्वरूप)

सक्रिय स्वरूप

(अत्यधिक मात्रा में लेने से नुकसान हो सकता है)

विटामिन A  प्रोविटामिन A या कैरोटिनॉइड्स (उदा बीटा कैरोटीन) रेटिनॉल और रएटिनाइल एस्टर्स
विटामिन D विटामिन D2 (एर्गोकैल्सिफेरॉल) या D3(कोलेकैल्सिफ़ेरॉल) कैल्सिट्रियॉल या कैल्सिडियॉल्स (25 OH विटामिन D)

 

  • सुरक्षित और पर्याप्त खुराक:

 

पूरक तत्व की खुराक पोषक तत्व के लिए RDA और ULs द्वारा निर्धारित खुराक के बीच होनी चाहिए

किसी भी पोषक तत्व की RDA (अनुशंसित दैनिक अलाउंस या ली जाने वाली मात्रा) या DV (दैनिक मात्रा) वह मात्रा है, जिसे नियमित रूप से लेने पर यह चुनी गई जनसंख्या के लगभग सभी लोगों की शारीरिक आवश्यकता को पर्याप्त रूप से कवर करती है

UL (सुरक्षित रूप से ली जाने वाली मात्रा की ऊपरी सीमा) पोषक तत्व की वह मात्रा है, जिसे अधिक समय तक सुरक्षित रूप से लिया जा सकता है और इससे हममें से अधिकांश लोगों को कोई विपरीत प्रभाव नहीं होगा

सामान्य पूरक-तत्वों के RDA और UL के बारे में जानकारी के लिए यह  तालिका देखें

यदि आप कुछ समय से कोई पूरकतत्व ले रहे हैं, तो यह जानने के लिए कि उन्हें अधिक अवधि तक लेने के कोई दुष्प्रभाव हो सकते हैं यह जाँचें. सामान्य पोषक-तत्वों की विषाक्तता के लिए यह तालिका देखें

 

  • दवाओं की सहक्रियाएँ:

 

कुछ पूरक तत्वों का प्रभाव आपके द्वारा ली जा रही दवाओं पर हो सकता है और इसका विपरीत भी हो सकता है, इस प्रकार दवा या पूरक तत्वों की प्रभाविता विपरीत रूप से प्रभावित हो सकती है. यह सुनिश्चित करें कि आपको इनके बारे में जानकारी हो और आवश्यकता होने पर अपने डॉक्टर से इसकी चर्चा करें

दवाओं की सहक्रियाओं के लिए इस तालिका को देखें

अब जबकि आपको यह सभी जानकारी प्राप्त हो गई है, आगे बढ़ें और वह गोली या कैप्सूल चुनें जो आपके इन मापदंडों की पूर्ति करती है और उनका उपयोग करना सुरक्षित बनाए रखें

यदि आप कोई पूरक-तत्व नहीं लेते हैं, तो यह पता लगाना अच्छा होगा कि क्या आप्कओ उनकी आवश्यकता है या नहीं, क्योंकि भारतीय जनसंख्या में विटामिन और खनिज-तत्वों की अत्यंत कमी है, पता लगाने के लिए पूरक तत्व: क्या आपको कोई पूरक तत्व लेना चाहिए : क्या आपको कोई  लेना चाहिए?’

देखें: पूरक तत्वों पर पर सुझावों के लिए हमारे संदर्भ